झांसी – बीएचईएल। ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय महिला प्रभाग द्वारा अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर महिलाओं के लिए किया कार्यक्रम

झांसी – बीएचईएल। ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय महिला प्रभाग द्वारा अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर महिलाओं के लिए किया कार्यक्रम

झांसी BHEL में सेंटर पर आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत महिला प्रभाग के द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर महिलाओं के लिए महिला सशक्तिकरण द्वारा समाज परिवर्तन कार्यक्रम का आयोजन किया गया

जिसमें मुख्य अतिथि
1 श्रीमती चंद्रप्रभा सिंह ग्राम प्रधान सिमरा वारी
2 श्रीमती डॉक्टर रश्मि बघेल बीएचईएल
3 श्रीमती डॉक्टर रश्मि पौराणिक बी एच ई एल

4 राजयोगिनी बी के प्रतिभा प्रभारी सत्यम कॉलोनी झांसी
5 राजयोगिनी बी के सरोज सेवा केंद्र संचालिका बी एच ई एल
6 बी के गोल्डी बहन बी एच ई एल उपस्थित रहे

सभी ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया

राजयोगिनी ब्रह्माकुमारी प्रतिभा बहन ने बताया की महिला दिवस पर नारियों के उत्थान के लिए हम महिलाओं को शिव शक्ति रूपा बनना होगा। शिव के साथ जुड़ने से हमारे में शक्तियां आएंगी।

हमारे में दिव्यता आएगी इसलिए दिखाते हैं देवियों में दिव्यता थी। दीदी जी ने आगे बताया कि देवियों के नाम और उनके अर्थ बताएं सरस्वती मां जिनमें विद्या की बुद्धि का बल था, संतोषी मां जिनमें सबर और संतोष का बल था, दुर्गा माता जिसमें शक्ति का बल था, अन्नपूर्णा जिसमें अनुदान करने का बल था, लक्ष्मी माता जिसमें धन का बल था।


इन बलों के आधार पर उन्हें संसार की इन बलों के आधार पर उन्होंने संसार की कमी कमजोरियों को निकाला और यह सभी देवियां अपने अपने गुणों में स्पेशलिस्ट थी। उसी प्रकार हम माताओं बहनों को भी अपने घर को इन सभी बलों का आह्वान करने से घर को स्वर्ग बनाना होगा कन्या माताओं को लक्ष्मी का रूप माना जाता है तो हमें अपने सुलाक्षण में स्थित रहकर लक्ष्मी की स्थिति में रहना है हम अपने लक्षण में खड़े रहे।

इसी प्रकार हर घर में एक भी लक्ष्मी हो जाए तो घर स्वर्ग बन जाएगा। बहन मनजीत ने बताया कि महिलाओं में सकारात्मकता होनी चाहिए तो हमारा जीवन अच्छा बन जाता है

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *