लखनऊ एयरपोर्ट पर 40 आउटसोर्सिंग कर्मचारी नौकरी से निकाले गए

लखनऊ एयरपोर्ट पर 40 आउटसोर्सिंग कर्मचारी नौकरी से निकाले गए

 

अमौसी स्थित चौधरी चरण सिंह अन्तरराष्ट्रीय (Chaudhary Charan Singh International Airport) एयरपोर्ट पर तैनात 40 संविदाकर्मियों की सेवाएं खत्म कर दी गई। ये सभी आउटसोर्सिंग पर भारत विकास ग्रुप प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के अधीन एयरपोर्ट पर सफाई से लेकर अन्य कार्यों में लगे हुए थे। नौकरी जाने की सूचना मिलते ही सभी कर्मचारी एयरपोर्ट परिसर पर आए और विरोध दर्ज कराया। फिलहाल उनको कोई ठोस आश्वासन नहीं मिला है।

 

अन्तरराष्ट्रीय उड़ानें बंद हैं। घरेलू उड़ानें भी सीमित संख्या (Chaudhary Charan Singh International Airport)  में उड़ान भर रही हैं। ऐसे में एयरपोर्ट पर ज्यादा कार्य नहीं बचा है। एयरपोर्ट अथारिटी के अनुसार इसी को ध्यान में रखते हुए 20 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी की जा रही है। इनमें अधिसंख्य वे हैं जो आउटसोर्सिंग पर हैं। निकाले गए सभी कर्मचारी हाउसकीपिंग के कार्य में लगे थे। उधर कर्मचारियों को पता चला तो कई कर्मी फफक पड़े। एक महिला कर्मचारी बात करते हुए फूट फूट कर रोने लगी। उसने बताया कि मेहनत में कभी कोई कसर नहीं छोड़ी। इस समय कोरोना संक्रमण की वजह से सभी जगह रोक लगी है। घर का किराया कहां से देगी। परिवार की जिम्मेदारी उसी के ऊपर है।

 

कर्ज़ में डूबे अनिल अंबानी क्या ‘उड़ा’ पाएँगे फ़्रांस से मिले रफ़ाल जेट?

 

यही स्थिति कई अन्य कर्मचारियों की थी। इस हाल में अब उनका (Chaudhary Charan Singh International Airport)  खर्च कैसे चलेगा, घर पर क्या मुंह लेकर जाएंगे और क्या बताएंगे यह सवाल उनको साल रहा है। कर्मचारियों ने बताया कि उनको दो महीनों से वेतन भी नहीं मिला। दिन में बुलाकर बारी बारी से सभी का पास ले लिया गया। एके शर्मा, निदेशक एयरपोर्ट ने बताया कि अभी ज्यादा उड़ानें नहीं हैं। ऐसे में खर्च कम करना मजबूरी है। जिनको हटाया गया है वे आउटसोर्सिंग के थे जिसका निर्णय ठेकेदार की ओर से लिया गया।

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *