D.El.Ed पराठेवाली की है शहर झांसी में चर्चा, जानिए क्या है इस नाम की कहानी

D.El.Ed पराठेवाली की है शहर झांसी में चर्चा, जानिए क्या है इस नाम की कहानी

 

 

डीएलएड यानी डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन (Diploma in elementary education) की पढ़ाई करने के बाद शिवानी ने इस दुकान की शुरुआत की है. यह उनका स्वरोजगार है. शिवानी ने बताया कि उन्होंने 75 फीसदी अंकों के साथ डीएलएड कोर्स किया था. इसके बाद वह झांसी में ही रहकर सरकारी नौकरी की तैयारी करने लगीं. लगातार 2 साल तक तैयारी करने के बाद भी सफलता हाथ नहीं लगी. कभी परीक्षाएं देरी से होती थीं, तो कभी पेपर लीक हो गया. इन सबके बाद भी वह तैयारी करती रहीं.

देश में आजकल कोर्सेज और नौकरियों के नाम पर दुकान का नाम रखने का चलन शुरू हो गया है. ग्रैजुएट चाय वाली और एमबीए चाय वाला जैसी दुकानें खूब चर्चा का विषय बनी हुई हैं. ऐसी ही एक नई दुकान झांसी में शुरू हुई है. डीएलएड (D.el.ed) पराठे वाली के नाम से. यह दुकान शिवानी प्रजापति ने शुरू की है.

 

डीएलएड यानी डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन (Diploma in elementary education) की पढ़ाई करने के बाद शिवानी ने इस दुकान की शुरुआत की है. यह उनका स्वरोजगार है. शिवानी ने बताया कि उन्होंने 75 फीसदी अंकों के साथ डीएलएड कोर्स किया था. इसके बाद वह झांसी में ही रहकर सरकारी नौकरी की तैयारी करने लगीं. लगातार 2 साल तक तैयारी करने के बाद भी सफलता हाथ नहीं लगी. कभी परीक्षाएं देरी से होती थीं, तो कभी पेपर लीक हो गया. इन सबके बाद भी वह तैयारी करती रहीं.

 

झांसी में बीकेडी चौराहे के पास स्थित विकास भवन के बिल्कुल सामने शिवानी ने अपनी यह दुकान शुरू की है. वह कहती हैं कि इस दुकान के बारे में अभी तक उनके घरवालों को भी नहीं पता है. वह नहीं जानतीं कि जब उनके घरवालों को इसके बारे में पता चलेगा तो उनकी क्या प्रतिक्रिया होगी. शिवानी का कहना है कि झांसी के लोग उनको बहुत प्रोत्साहित कर रहे हैं. वह दुकान चलाने के साथ ही अपनी सरकारी नौकरी की तैयारी भी जारी रखेंगी

 

 

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *