उमा भारती बोलीं – राम का नाम भाजपा की बपौती नहीं, वीडियो वायरल

lord ram not bjps legac

उमा भारती बोलीं – राम का नाम भाजपा की बपौती नहीं , वीडियो वायरल

 

JMKTIMES! वरिष्ठ भाजपा नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती का एक वीडियो वायरल ( lord ram not bjps legac) हुआ है। वीडियो में उन्होंने कहा कि भगवान राम का नाम अयोध्या या भाजपा की बपौती नहीं है। राम सबके हैं। उन्होंने कहा, ‘जो राम को मानते हैं और भाजपा में हैं या नहीं हैं… चाहे वो किसी भी धर्म के हों या किसी भी पार्टी के हों… किसी भी समुदाय के हों, जो राम के नाम में आस्था रखते हैं वो विश्व में कहीं के भी निवासी हों, वो सब अधिकार रखते हैं कि अपनी राय दें।’ उमा भारती आगे कहती हैं, ‘उस अधिकार को रोकने का अगर हम अहंकार पाल लेंगे कि राम पर हमारा पेटेंट है। हम भूल रहे हैं कि हमारा अंत होना है और राम नाम का कभी अंत नहीं होना है।

 

 

उमा भारती के इस वीडियो को कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ( lord ram not bjps legac)  ने भी शेयर किया है। उन्होंने वीडियो शेयर कर लिखा, ‘धन्यवाद उमा।’ दरअसल दिग्विजय सिंह इन दिनों राम मंदिर के शिलान्यास के लिए घोषित पांच अगस्त को अशुभ मुहुर्त बताते पर निशाने पर हैं। उन्होंने पीएम मोदी से अपील करते हुए कहा कि शिलान्यास कार्यक्रम को स्थगति किया जाए और ये चतुर्मास खत्म होने के बाद किया जाए। सिंह ने कहा कि भारत में हजारों साल की सनातन धर्म की परंपराएं चली आ रहीं हैं। हमारे धर्म में हजारों वर्ष की जो संस्कार एवं संस्कृति है, उसमें चतुर्मास में ना कोई संत, ना कोई महात्मा अपने स्थान को छोड़ता है और कोई शुभ कार्य नहीं होता है। विशेषकर तो हर चीज के लिए मुहूर्त देखा जाता है।

 

 

नई शिक्षा नीति 2020: टीचर्स बनना हुआ मुश्किल

दिग्विजय ने कहा कि मैं द्वारका और जोशीमठ के सबसे वरिष्ठ शंकराचार्य ( lord ram not bjps legac)  स्वामी स्वरूपानंदजी महाराज का दीक्षित शिष्य हूं और मैंने उनसे पूछा कि जब यह परंपरा पूरे देश में चल रही है कि हर शुभ कार्य के लिए शुभ समय मनाया जाता है और चातुर्मास में कोई शुभ नहीं होता है काम, कोई विवाह नहीं है, इसलिए चातुर्मास के महीने में भादो में 5 अगस्त को राम मंदिर का शिलान्यास क्यों किया जाता है? उन्होंने कहा कि इसके जवाब में शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद जी ने वेदों का पूरा संदर्भ देते हुए और ज्योतिषाचार्य के बिंदुओं को देखते हुए कहा, ‘यह बिल्कुल गलत है।’

दिग्विजय ने बताया, ‘मैंने इसे अपने फेसबुक पर डाला। उन्होंने (शंकराचार्य) अपने फेसबुक पर भी पोस्ट किया। अब इसे संयोग कहें या कहें कि सभी पुजारियों (राम मंदिर के) को कोरोना वायरस मिला। कोरोना वायरस से उत्तर प्रदेश की मंत्री कमला रानी वरुण की दर्दनाक मौत हो गई, भारत के गृह मंत्री अमित शाह खुद कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए, उत्तर प्रदेश के भाजपा अध्यक्ष (स्वतंत्र देव सिंह) कोरोना वायरस के संक्रमण के बाद अस्पताल में, मध्य प्रदेश भाजपा के मुख्यमंत्री (शिवराज सिंह) चौहान) और भाजपा के मध्य प्रदेश अध्यक्ष (विष्णु दत्त शर्मा) कोरोना वायरस के संक्रमण के बाद अस्पताल में हैं, भाजपा के कर्नाटक के मुख्यमंत्री (बीएस येदियुरप्पा) कोरोना वायरस से संक्रमित हैं।

 

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *