राखी बांधने का सबसे अच्छा शुभ मुहूर्त- Raksha Bandhan 2020

Raksha-Bandhan-2020

राखी बांधने का सबसे अच्छा शुभ मुहूर्त- Raksha Bandhan 2020

 

रक्षाबंधन का त्योहार सावन माह  (Raksha Bandhan 2020) की पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस साल सावन के आखिरी सोमवार (3 अगस्त 2020) पर रक्षाबंधन का त्योहार पड़ रहा है। भाई-बहन का पवित्र त्योहार रक्षाबंधन इस बार बेहद खास होगा, क्योंकि इस साल रक्षाबंधन पर सर्वार्थ सिद्धि और दीर्घायु आयुष्मान का शुभ संयोग बन रहा है। ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक, रक्षाबंधन पर ऐसा शुभ संयोग 29 साल बाद आया है। साथ ही इस साल भद्रा और ग्रहण का साया भी रक्षाबंधन पर नहीं पड़ रहा है।




रक्षाबंधन का शुभ मुहूर्त- (Raksha Bandhan 2020)

राखी बांधने का मुहूर्त- सुबह 09:27:30 से रात्रि 07:11:21 तक।
रक्षा बंधन अपराह्न मुहूर्त-दोपहर 01:45:16 से शाम 04:23:16 तक।
रक्षा बंधन प्रदोष मुहूर्त- शाम  05 :01:15 से रात्रि 07:11:21 तक।
मुहूर्त अवधि : 11 घंटे 43 मिनट।



शुभ समय- (Raksha Bandhan 2020)

6:00 से 7:30 तक,
9:00 से 10:30 तक,
3:31 से 6:41 तक
राहुकाल- प्रात: 7:30 से 9:00 बजे तक (राहुकाल में राखी न बांधें)

राखी बांधने का  मंत्र



यदि बहन अपने भाई को राखी बांध रही है तो बहन को पश्‍चिम में मुख करके भाई के ललाट पर रोली, चंदन व अक्षत का तिलक लगाते हुए उपरोक्ति मंत्र का उच्चारण करना चाहिए। शास्त्रों के अनुसार रक्षा सूत्र बांधे जाते समय उपरोक्त मंत्र का जाप करने से अधिक फल मिलता है। भाई को पूर्वाभिमुख, पूर्व दिशा की ओर बिठाएं। बहन का मुंह पश्चिम दिशा की ओर होना चाहिए।
इसके बाद भाई के माथे पर टीका लगाकर दाहिने हाथ पर रक्षा सूत्र बांधे। रक्षा सूत्र बांधते समय उपरोक्त मंत्र का उच्चारण करें।
1. येन बद्धो बली राजा दानवेन्द्रो महाबल:।
तेन त्वां अभिबन्धामि रक्षे मा चल मा चल।।
 राखी की थाली में रेशमी वस्त्र, केसर, सरसों, चावल, चंदन और कलावा रखकर भगवान की पूजा करनी चाहिए। इसके बाद राखी भगवान शिव की प्रतिमा को अर्पित करें। अब भगवान शिव को अर्पित किया गया धागा या राखी भाइयों की कलाई में बांधे

 

 

 

Spread the love

1 thought on “राखी बांधने का सबसे अच्छा शुभ मुहूर्त- Raksha Bandhan 2020

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

//azoaltou.com/afu.php?zoneid=3493311