सोने के शेषनाग, सर्व औषधि राम मंदिर के भूमि पूजन में क्या-क्या लगेगा?

ram-mandir-bhumi-pujan

सोने के शेषनाग, सर्व औषधि राम मंदिर के भूमि पूजन में क्या-क्या लगेगा?

 

बीएचयू के संस्कृत विद्या धर्म संकाय (ram mandir bhumi pujan) ज्योतिष विभाग के प्रोफेसर रामनारायण द्विवेदी ने कहा कि शेषनाग की प्रतिकृति सोने की होगी. साथ ही चांदी के कच्छप की प्रतिकृति के साथ ही सर्व औषधि का भी इस्तेमाल भूमि पूजन में किया जाएगा.



राम मंदिर निर्माण (ram mandir bhumi pujan) के लिए 5 अगस्त को भूमि पूजन होना है. इसके लिए तैयारियां जोरों पर हैं. काशी के विद्वानों को अनुष्ठान का दायित्व सौंपा गया है. भूमि पूजन के दौरान नींव में एक मन चांदी की रजत शिला स्थापित की जानी है. रजत शिला स्थापित किए जाने की खबर के बाद लोगों की दिलचस्पी इस बात में बढ़ गई है कि भूमि पूजन के दौरान और किस-किस सामग्री का उपयोग किया जाएगा?

 

  • नींव में पड़ेंगे काशी विश्वनाथ को अर्पित रजत बेलपत्र भी
  • चांदी के कच्छप और सर्व औषधि का भी होगा उपयोग
  • अनुष्ठान कराने के लिए काशी के विद्वानों को मिला निमंत्रण




डॉक्टर द्विवेदी ने बताया कि चांदी के ये पांच सिक्के नंदा, जया, भद्रा, रिक्ता और पूर्णा के प्रतीक होंगे. उन्होंने कहा कि ताम्र कलश में पांच नदियों का पवित्र जल भरा जाएगा, जिसका उपयोग अनुष्ठान के लिए किया जाएगा. काशी विद्वत परिषद के मंत्री ने बताया कि पाताल लोक के मालिक और पृथ्वी को अपने फन पर धारण करने वाले शेषनाग की प्रतिकृति भी नींव में डाली जाएगी.



बीएचयू के संस्कृत विद्या धर्म संकाय ज्योतिष विभाग के प्रोफेसर द्विवेदी ने कहा कि शेष नाग (ram mandir bhumi pujan)  की प्रतिकृति सोने की होगी. साथ ही चांदी के कच्छप की प्रतिकृति के साथ ही खर्व औषधि का भी इस्तेमाल भूमि पूजन में किया जाएगा. उन्होंने बताया कि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की ओर से भूमि पूजन का अनुष्ठान संपन्न कराने के लिए उन्हें औपचारिक निमंत्रण मिल चुका है



काशी विद्वत परिषद के मंत्री ने बताया कि उनके साथ (ram mandir bhumi pujan) दो अन्य विद्वान भी राम मंदिर का भूमि पूजन कराने अयोध्या जाएंगे. उन्होंने बताया कि वे लोग 3 अगस्त को अयोध्या पहुंचेंगे. गौरतलब है कि 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में भूमि पूजन होना है. इसके लिए श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट तैयारियों को अंतिम रूप देने में जुटा है, वहीं देश के अलग-अलग स्थानों से नदियों का पवित्र जल और मिट्टी लाने की प्रक्रिया भी जारी है.



 

Spread the love

1 thought on “सोने के शेषनाग, सर्व औषधि राम मंदिर के भूमि पूजन में क्या-क्या लगेगा?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *